Janta Now
Health-Fitnessगुजरातदेशराज्यवित्त

Spinal Muscular Atrophy – क्‍या है दुर्लभ बीमारी स्पाइनल मर्क्युलर ऐ ट्रॉफी टाइप 1 , इस बीमारी का इलाज का खर्च के 17.5 करोड़

अमरेली (Amreli) प्राप्त जानकारी के अनुसार गुजरात (Gujarat) के अमरेली जिले के वड़िया गांव में 4 माह की बच्ची को गंभीर बीमारी ने परेशान कर दिया है । आपको बताते चलें कि इस बीमारी को डॉक्टर (Spinal muscular atrophy) के नाम से जानते है। इस बीमारी की चलते बच्ची के साथ-साथ इसके साथ परिजनों भी परेशान है ।इस बच्ची को स्पाइनल मर्क्युलर ऐ ट्रॉफी टाइप 1 नाम की बीमारी है ।

Spinal muscular atrophy - क्‍या है दुर्लभ बीमारी स्पाइनल मर्क्युलर ऐ ट्रॉफी टाइप 1 , इस बीमारी का इलाज का खर्च के 17.5 करोड़

Spinal muscular atrophy – के इलाज के लिए कितने रुपए की होगी जरूरत | Spinal muscular atrophy treatment




डॉक्टरों (Doctor) के अनुसार इस बीमारी का इलाज का खर्च 17.5 करोड़ का है। बच्ची के परिवार के लोग इतनी रकम के लिए बहुत परेशान है बच्ची के परिवार लोगो ने गुजरात और देशवासी के सामने झोली फैलाई है ।अगर इस बच्ची 4 मास की है अगर देश वासी उसके खाते में अपनी यथा स्थिति के अनुसार कम से कम 100 भी डालेगा तो इस बच्ची को नया जीवन मिल जायेगा । किसी उम्मीद से परिजनों मीडिया के सामने अपनी बात रखी और लोगों से गुजारिश की हमारी बच्ची को अपनी बच्ची मानते हुए इस बच्ची के इलाज के लिए अपना हाथ आगे बढ़ाए ।



spinal muscular atrophy treatment | spinal muscular atrophy injection cost

दान (donation) देने के लिए इच्छुक व्यक्ति उपर दिए गए बैंक खाते में ही दान की राशि भेजें। दान देने वाले व्यक्ति को 80 C के तहत दान दी गई राशि पर टैक्स रहित होती है उसपर आपको किसी भी प्रकार का टैक्स नहीं देना होता।


Related posts

ढ़िकौली निवासी कैप्टन राज सिंह ढाका की तेहरवीं में उमड़ा जन-सैलाब

jantanow

#YouthFestival: युवा उत्सव कहानी लेखन में अमन कुमार प्रथम, भाषण में सुषमा रही अव्वल

Vedansh (Baghpat)

Jalaun News : उरई स्टेशन पर ठेका खत्म होने के बावजूद भी संचालित हो रही वाहन पार्किंग

jantanow

Baghpat News : डाक्टर शराफत अली ने चिकित्सा क्षेत्र में किया जनपद बागपत का नाम रोशन

jantanow

बागेश्वर मंदिर बागपत में चल रहे रामायण पाठ का पूर्णिमा को होगा समापन

jantanow

जैन समाज के हजारों लोगो ने केन्द्र और राज्य सरकार के खिलाफ खोला मोर्चा

jantanow

1 comment

Madelaine October 18, 2023 at 8:01 am

Definitely imagine tthat which you stated. Your favouritte reason seemed to bbe at the web thhe simpkest facdtor to unerstand
of. I saay too you, I defnitely gett annoyhed aat the same time as orher pedople think about concern that thy plainlly don’t recognise about.
Youu managed too hit thee nail upkn the top as neatly ass defined out the whple thing without havig sise efect ,
peopoe cold take a signal. Will likely be back tto gett more.
Thanks

Reply

Leave a Comment